ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन (Aisi Lagi Lagan Meera Ho Gayi Magan )

    RELATED – ये चमक ये दमक फुलवन मा महक – Ye Chamak Ye Damak Lyrics

    राधे तेरे चरणों की गर धूल जो मिल जाए | Ravi Raj Radhe Tere Charno Ki Lyrics

    इस Post में आपको ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन (Aisi Lagi Lagan Meera Ho Gayi Magan ) का हिंदी में Lyrics दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन (Aisi Lagi Lagan Meera Ho Gayi Magan ) आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगा | BhajanRas Blog पे आपको सभी देवी देवताओ की आरतिया,चालीसा, व्रत कथा, नए पुराने भजन, प्रसिद्ध भजन और कथाये ,पूजन विधि, उनका महत्व, उनकी व्रत कथाये BhajanRas.com पे आप हिंदी में Lyrics पढ़ सकते हो।

    ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन। 

    वो तो गली गली हरी गुण गाने लगी॥ 

    है आँख वो जो श्याम का दर्शन किया करे,

    है शीश जो प्रभु चरण में वंदन किया करे।

    बेकार वो मुख है जो रहे व्यर्थ बातों में,

    मुख है वोजो हरीनाम का सुमिरन किया करे॥

    हीरेमोती से नहीं शोभा है हाथकी।

    है हाथ जो भगवान् का पूजन किया करे॥

    मर के भी अमरनाम है उस जीवका जग में।

    प्रभु प्रेम में बलिदान जो जीवन किया करे॥

    ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन,

    वो तो गली गली हरी गुण गाने लगी॥ 

    महलों में पली बन के जोगन चली।

    मीरा रानी दीवानी कहाने लगी॥

    ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन।

    वो तो गली गली गली  हरी गुण गाने लगी॥

    कोई रोके नहीं कोई टोके नही

    मीरा गोविन्द गोपाल गाने लगी।

    बैठी संतो के संग रंगी मोहन के रंग

    मीरा प्रेमी प्रीतम को मनाने लगी।

    वो तो गली गली हरी गुण गाने लगी॥

    ऐसी लागी लगन, मीरा हो गयी मगन।

    राणा ने विष दिया मानो अमृत पिया,

    मीरा सागर में सरिता समाने लगी।

    दुःख लाखों सहे मुख से गोविन्द कहे,

    मीरा गोविन्द गोपाल गाने लगी।

    वो तो गली गली हरी गुण गाने लगी॥

    ऐसी लागी लगन मीरा हो गयी मगन। 

    वो तो गली गली हरी गुण गाने लगी॥ 

    Leave a Reply