जब संकट कोई आए,
तू ले मैया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम,
जब व्याकुल मन घबराए,
तू ले मईया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम ॥

चलते चलते राह में भटके,
काम कोई जब तेरा अटके,
हर दुःख का यही उपाय,
हर दुःख का यही उपाय,
तू ले मईया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम ॥

कठिनाई जब कोई आए,
संगी साथी काम ना आए,
जब राह कोई ना पाए,
जब राह कोई ना पाए,
तू ले मईया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम ॥

जय माता की जपता जो माला,
झूम रहा वो हर मतवाला,
‘अंकुश’ भी अब तो गाये,
‘अंकुश’ भी अब तो गाये,
तू ले मईया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम ॥

जब संकट कोई आए,
तू ले मईया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम,
जब व्याकुल मन घबराए,
तू ले मैया का नाम,
तेरे पुरण होंगे काम ॥

Leave a Reply